करम सिंह बने सीतारामडेरा गुरुद्वारा के प्रधान

जमशेदपुर, वरीय संवाददाता Updated: 18 मार्च, 2017 8:02 PM

+ -

सरदार करम सिंह सत्र 2017-20 के लिए शहीद बाबा दीप सिंह गुरुद्वारा साहिब सीतारामडेरा के प्रधान बन गये हैं। गुरुद्वारा साहिब परिसर में शनिवार को आमसभा में करम सिंह के नाम पर सर्वसम्मति बनी।

प्रधान का हुआ सम्मान

सीजीपीसी प्रधान सरदार इंद्रजीत सिंह ने बताया कि करम सिंह के नाम पर सर्वसम्मति बनी है। कविश्री जत्था के जसबीर सिंह मत्तेवाल ने संगत से भाई कन्हैया सिंह के नक्शेकदम पर चलने की अपील की। अरदास के बाद करम सिंह और इंद्रजीत सिंह को सिरोपा देकर सम्मानित किया गया। मौके पर हरजिंदर सिंह, अवतार सिंह सोय, निर्मल सिंह, बीबी कुलवंत कौर, बीबी कमलजीत कौर, उपदेश कौर, रानी कौर आदि मौजूद थे।

तीन घंटे में बनी सहमति

सीजीपीसी प्रधान इंद्रजीत सिंह की अध्यक्षता में तीन घंटे की मैराथम बैठक में करम सिंह पर सर्वसम्मति तीन घंटे की मैराथन बैठक के बाद बनी। बैठक में विरोधी समझे जा रहे पूर्व महासचिव मोहन सिंह एवं समर्थकों ने सहमति प्रदान कर दी। करम सिंह और सुरजीत सिंह ने पूरी टीम के साथ मिलजुल कर काम करने की इच्छा जाहिर कर दी। करम सिंह ने गुरमीत सिंह विक्की को वरीय उपाध्यक्ष बनाने की घोषणा भी कर दी।

बिल्ला की रही भूमिका

कमेटी की आमसभा में महासचिव सुरजीत सिंह ने सचिवीय प्रतिवेदन पेश किया। अविनाश सिंह ने भविष्य की योजना से रूबरू कराया। गुरुचरण सिंह बिल्ला, गुरदीप सिंह पप्पू, कुलबिन्दर सिंह, जसवंत सिंह भोमा, सुरजीत सिंह छित्ते, कविसर जसबीर सिंह मत्तेवाल, जयमल सिंह बरियार ने गिले शिकवे दूर कराया। मोहन सिंह ने बैंक लॉकर्स की चाबी संगत के सामने इंद्रजीत सिंह को सौंपा।

जरूर पढ़ें

From around the web