झारखंड: झरिया में जमीन धंसने से गैस रिसाव, 1000 लोगों को खतरा

झरिया । संवाददाता Updated: 13 मार्च, 2017 9:15 PM

+ -

झरिया के बोका पहाड़ी बस्ती में सोमवार को जोरदार आवाज़ के साथ करीब 75 वर्ग फीट व्यास में जमीन धंस गई और गैस का रिसाव शुरू हो गया। जमीन धंसने से हड़कम्प मचा हुआ है।

यहां आसपास की करीब एक हजार आबादी पर खतरा बढ़ गया है। खबर पाकर झरिया विधायक संजीव सिंह पहुंचे। जमीन धंसने से एक विशाल बरगद का पेड़ भी जमीन में समा गया है।

लोगों ने बताया कि राजापुर के पम्प हाउस के समीप जोरदार आवाज सुबह दस बजे हुई और देखते ही देखते पेड़ के साथ जमीन धंस गई। वहां आग और गैस निकलने लगी। बोकापहाड़ी बस्ती को 2004 से जरेडा खाली करा रहा है।

फिर भी 50-60 घर अभी भी हैं। यह बस्ती आग पर बसी है। प्रबंधन ने काफी पहले नोटिस देकर कहा था कि बस्ती के नीचे आग है कोयला जलकर राख हो रहा है। कभी भी भयंकर हादसा हो सकता है।

घटनास्थल से महज 50 गज कि दूरी पर मस्जिद और घर हैं।

जरूर पढ़ें

From around the web