रायबरेली की राजनीति की कमान संभालने के लिए युवा पीढ़ी तैयार

रायबरेली, गौरव अवस्थी Updated: 14 फरवरी, 2017 6:37 PM

+ -

रायबरेली की राजनीति में ‘वसंत’ करीब दो दशक बाद आ रहा है। युवा पीढ़ी कमान संभालने को तैयार है। कई जगह मैदान में उतरे ये युवा नेता पुराने धुरंधरों को चुनौती दे रहे हैं।

जिले के चार विधानसभा क्षेत्रों में नेताओं के बेटे-बेटी और बहू परिवार के सम्मान में कमान संभालने को चुनावी मैदान में हैं। भाजपा-कांग्रेस और बसपा ने दो-दो क्षेत्रों में टिकट देकर नई पीढ़ी को बराबर की तवज्जो दी है। इसके अलावा तीनों ही दलों ने नए कार्यकर्ताओं को टिकट देकर भी राजनीति में नया वसंत खिलाने का माहौल बनाया है।

सदर सीट से कांग्रेस उम्मीदवार बाहुबली विधायक अखिलेश सिंह की बेटी अदिति सिंह अमेरिका से एमबीए और ऊंचाहार से बसपा उम्मीदवार विवेक सिंह पोस्ट ग्रेजुएट हैं। डीह के ब्लाक प्रमुख रह चुके विवेक जिले के दबंग नेता और पूर्व विधायक गजाधर सिंह के बेटे हैं। भाजपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कृष्ट मौर्य भी ऊंचाहार से भाजपा से मैदान में हैं।

भाजपा ने हरचंदपुर में पूर्व मंत्री स्वर्गीय शिवगणेश लोधी की बहू कंचन लोधी को प्रत्याशी बना कर नया प्रयोग किया है। पूर्व सांसद स्वर्गीय अशोक सिंह के बेटे मनीष सिंह पर बसपा ने हरचंदपुर से और बछरावां सुरक्षित क्षेत्र से कांग्रेस ने पूर्व विधायक स्वर्गीय शिवदर्शन के बेटे साहब शरण पासी को मैदान में उतारा है।

जरूर पढ़ें

From around the web